• Tue. Oct 26th, 2021

art

  • Home
  • महेंदर मिसिर की आज पुण्यतिथि है..

महेंदर मिसिर की आज पुण्यतिथि है..

-चंदन तिवारी महेंदर मिसिर की आज पुण्यतिथि है तो उनके जीवन का एक प्रसंग सुना रही हूँ। एक बार महेंदर मिसिर घूमते फिरते कलकता में एक संगीत की महफ़िल में…

निजामाबाद: साहित्य और संगीत से जुड़ा एक ऐतिहासिक क्षेत्र

उत्तर प्रदेश के एक पिछ्ड़े जिले आज़मगढ़ के कस्बा निज़ामाबाद प्राचीनता एवं सांस्कृतिक,शैक्षिक धरोहरों के रूप में देश मे अपना एक अहम स्थान रखता है।गुरु नानक देव,गुरु तेगबहादुर से लेकर…

सौन्दर्य क्या है ?

  इस जगत में दो तरह के सौन्दर्य है | एक तो सौन्दर्य है शरीर का , आकृति का | एक सौन्दर्य है अतस का , अंतरात्मा का | आकृति…

मैं उस संस्कृति- सभ्यता और समाज की चोली क्या उतारूंगा, जो खुद ही नंगी है..!

मंटो आज पैदा हुआ था ——————————- “मैं उस संस्कृति- सभ्यता और समाज की चोली क्या उतारूंगा, जो खुद ही नंगी है. मैं इसे कपड़े पहनाने की कोशिश भी नही करता.…

संवारना गतिशील क्रिया है और यही जीवन है

–चंचल अदब के दो बड़े नाम साहित्य के प्रो0 Sadanand Shahiजी और चित्रकला की प्रो0 Mridula Sinha जी समताघर आये थे । दोनो जन काशी विश्व विद्यालय से जुड़े हैं…

खजुराहो के जैन मंदिर में एक विशिष्ट शिल्प है नूपुर धारण करती हुई सुरसुन्दरी का

–बसंत त्रिपाठी खजुराहो के जैन मंदिर में एक विशिष्ट शिल्प है नूपुर धारण करती हुई सुरसुन्दरी का । यह अन्य किसी मंदिर में दुबारा देखने को नहीं मिला । नायिका…

आजमगढ़ सामाजिक और सांकृतिक संवर्धन समिति का गठन

@अरविंद सिंह। जिलाधिकारी एनपी सिंह की बहुत सारी खूबियों में से यह खूबी सबसे खुबसूरत है कि वह कोई काम कल पर नहीं छोड़ते बल्कि आज पर विश्वास करते हैं।कोई…

सुंदरता और त्वचा का रंग

– राममनोहर लोहिया सौंदर्य की परख की यह विकृति राजनैतिक प्रभाव के कारण आई है। गोरी चमड़ी के यूरोपियन लोग सारी दुनिया पर तीन सदियों से हावी रहे हैं। अधिकांश…

मुबारकपुर की बनारसी साड़ी एक जनपद एक उत्पाद में शामिल

आजमगढ़ 28 सितम्बर — एमएसएमई विकास संस्थान वाराणसी एवं राज्य सरकार के उद्योग विभाग के सहयोग से तथा अन्य सम्बन्धित विभागों के समन्वय से कलेक्ट्रेट परिसर में दो दिवसीय (27…

बना रहे ‘बनारस’

बनारस की गलिया .……………………………… जो लोग बम्बई ,कलकत्ता और दिल्ली जैसे शहरों में एक बार हो आये है अथवा किसी कारणवश अब वही रहने लग गये है ,ऐसे लोग जब…

हिंदी »