काले धन के धंधे में लिप्त युवक फंसा जीआरपी के फंदे में

डॉ. प्रेम कुमार 

दिलदारनगर।(रेल संवाददाता)पूर्व मध्य रेलवे के जीआरपी डीडीयू जं विभागीय उच्चाधिकारियों द्वारा रेल अपराधियों पर नकेल कसने के दिशा निर्देश पर अपने छेड़े गए मुहिम में कामयाबी दर कामयाबी हासिल कर रही है।बीते रविवार की देर शाम भारी मात्रा में चांदी की सिल्लियों संग कीमती धातुओं के दो धंधेबाजों की गिरफ्तारी के बाद जीआरपी डीडीयू के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार दुबे तथा आरपीएफ पोस्ट डीडीयू के प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार द्वारा मंगलवार की रात चलाये गए संयुक्त चेकिंग अभियान में साढ़े अड़तीस लाख रुपये काले धन के साथ धंधेबाज को अपने फंदे में लेकर जेल भेज दिया गया।जीआरपी डीडीयू प्रभारी निरीक्षक श्री दुबे ने बताया कि अपर पुलिस महानिदेशक रेलवे लखनऊ,पुलिस अधीक्षक रेलवे प्रयागराज, क्षेत्राधिकारी रेलवे द्वारा रेल अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई को लेकर जारी दिशानिर्देश को लेकर मंगलवार की रात जीआरपी के वरिष्ठ उपनिरीक्षक डी पी यादव,एस आई अश्वनी कुमार राय, आरपीएफ एस आई मुकेश कुमार की टीम बनाकर रेलवे सर्कुलेटिंग एरिया और प्लेटफॉर्म पर संदिग्ध लोगों की चेकिंग की जा रही थी।इसी क्रम में 4 नंबर प्लेटफॉर्म के आरपीएफ के पुराने विश्राम कक्ष के पास एक युवक बैग लिए संदिग्ध अवस्था में टहलता मिला।रोककर युवक से आने जाने के संबंध में पूछे जाने पर सकपका गया और जब बैग की तलाशी ली गई तो नोटों से भरा नजर आया।जिसे जीआरपी थाने लाकर देखा गया तो पांच सौ रुपये की 71गड्डी तथा डेढ़ गड्डी दो हजार रुपये का नोट मिला जो कुल मिलाकर 38 लाख 50 हजार रुपये था। भारी मात्रा में नोट युवक लेकर पूछताछ में अपना नाम जीतू अग्रवाल निवासी कमबुआन सदर बाजार थाना उत्तर जिला फ़िरोज़ाबाद बताया आगे उन्होंने बताया कि अनुमान के अनुसार इतना काला धन इंकम टैक्स चोरी की गरज से युवक ट्रेन के माध्यम से लेकर आ रहा था। फिलहाल यह जांच का विषय है।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिंदी »