• Sun. Aug 1st, 2021

भ्रष्टाचार का पोषक बन गई है नगर पालिका-विवेक सिंह शम्मी

ByAmarjit Rai

Jun 17, 2021

गाजीपुर। नगर पालिका के अंतर्गत आने वाले कई मुहल्लों का हाल बेहाल है। इन मोहल्लों के निवासी नारकीय जीवन जीने को मजबूर हैं। मोहल्ले वासी जब अपनी समस्याओं से जनप्रतिनिधियों को वाकिफ कराते  हैं तो जनप्रतिनिधि भी उनकी बातों को सुना अनसुना कर रहे हैं। ऐसा ही नजारा वंशीबाजार स्थित आनंदबिहार कालोनी में जाने वाली सड़क कहा है यह सड़क वर्षों से बदहाल थी। कालोनीवासियों द्वारा कई बार भाजपा समर्थित सभासद कमलेश बिंद से सड़क की मरम्मत कराने को कहा लेकिन सभासद ने सड़क निर्माण कराना तो दूर मरम्मत का प्रस्ताव भी नगर पालिका में भेजना मुनासिब नहीं समझा। अपने सभासद के कर्तव्यों के प्रति उदासीनता से मायूस कालोनीवासियों ने नगर के प्रमुख समाजसेवी विवेक सिंह शम्मी को अपनी व्यथा सुनाई। कॉलोनी वासियों की व्यथा सुन समाजसेवियों ने श्रमदान से सड़क पर ईंट डालकर मार्ग को आने जाने योग्य बनाया। नगर के वंशीबाजार स्थित आनंदबिहार कालोनी के निवासियों के आवागमन के लिए बनी सड़क वर्षों से बदहाल थी। कालोनीवासी बार-बार सभासद व अन्य जनप्रतिनिधियों से सड़क के मरम्मत की गुहार लगाते रहे। लेकिन किसी ने भी कॉलोनी वासियों के गुहार पर ध्यान लगा देना मुनासिब नहीं समझा। रही सही कसर बारिश ने पूरी कर दी। नगरपालिका के व्यवस्था बारिश के पानी के साथ ही बह गया।लेकिन सभासद द्वारा फिर भी ध्यान नहीं दिया। इससे परेशान लोगों ने समाजसेवी विवेक कुमार सिंह शम्मी से संर्पक कर अपनी समस्या से अवगत कराया। कॉलोनी वासियों के गुहार पर समाजसेवी श्री सिंह ने समाजसेवी अखिलेश वह अन्य के साथ श्रमदान के जरिए सड़क पर ईंट डलवाने के काम प्रारंभ किया। इससे कालोनीवासियों में खुशी की लहर दौड़ गई।

इस मौके पर श्री सिंह ने कहा कि नगर पालिका अपने कर्तव्यों के प्रति उदासीन है जिसका दंश पूरा शहर झेल रहा है। बरसात से पहले नालियों की सफाई नहीं हुई जिससे बरसात के शुरुआत में ही लोगो के घरों में पानी घुसने लगा है। कोरोना काल में भी कूड़ा को हटवाने का काम नगरपालिका द्वारा नहीं किया जा रहा है, जिससे चारो तरफ गंदगी का अंबार लग गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि नगरपालिका भ्रष्टाचार का पोषक बन गई है। भ्रष्टाचार यहां चरम पर है। चारों तरफ लूट मची हुई है। अनियमितताओं की भरमार है। जिसके चलते टेंडर निरस्त हो जाता है।

श्रमदान करने वालो में वीरू बिंद, शेर अली राईनी, भानू देवी, बरती देवी, राजमती देवी, साबिया बानो, मुन्नी बेगम, जोहरा बेगम आदि मुहल्लेवासी शामिल रहे।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिंदी »