कोरोना को रोकने में यह मास्क है सबसे सुरक्षित, आप भी जानें आपने मास्क के बरे में

कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए प्रयोग में आने वाले मास्क को लेकर एक सर्वे किया गया है। जिसमें कई तरह के दावे किए गए हैं, जो चौंकाने वाले हैं। सर्वे में सामने आया है कि हर तीन में एक भारतीय घर के बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग नहीं कर रहा है। जिससे वह जल्दी कोरोनो से संक्रमित हो रहे हैं।

Where to buy N95 and KN95 face masks online to fight Omicron

 

ये सर्वे लोकल सर्किल द्वारा किया गया है, जिसमें सामने आया है कि अमेरिका की तरह 67 प्रतिशत भारतीयों का मानना कि भारत सरकार को मुफ्त में N95 मास्क देना चाहिए। सर्वे में इस सवाल पर 9,902 प्रतिक्रियाएं मिलीं, जिसमें सामने आया कि सामुदायिक स्तर पर N95/KN95/FFP2 मास्क उपलब्ध कराए जाएं। मास्क की अनिवार्यता को देखते हुए अमेरिका में इसी तरह का अभियान शुरू किया गया है।

अमेरिका में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर 400 मिलियन N95 मास्क मुफ्त में उपलब्ध हैं। ऐसे में भारतीय भी चाहते हैं कि उन्हें सरकार द्वारा फ्री में मास्क उपलब्ध कराया जाए। मास्क को लेकर ये बात तब सामने आई जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करके मास्क की अनिवार्यता पर जोर दे रहे हैं। वहीं, कई राज्य इसको लेकर जुर्माना भी बढ़ा रहे हैं।

 

Can You Reuse a KN95 or N95 Mask? Experts Say Yes, but Follow These Steps |  Smart News | Smithsonian Magazine

N95 मास्क

कोरोना की तीसरी लहर के बीच विशेषज्ञों का कहना है कि संक्रमण से बचने के लिए N95 या KN95 मास्क ही उपयुक्त हैं। यह मानना है कि सर्जिकल मास्क कोविड-19 संक्रमण के खिलाफ सीमित सुरक्षा ही प्रदान करते हैं। वहीं सबसे खतरनाक कपड़े के मास्क होते हैं, जिनसे न के बराबर सुरक्षा हो पाती है।

KN95 and N95 Face Masks You Can Order Online Right Now | Real Simple

क्यों सुरक्षित है एन-95 मास्क-

लोकल सर्किल द्वारा ओमिक्रॉन संक्रमण को देखते हुए यह परीक्षण किया। इसके तहत दो व्यक्तियों(एक ओमिक्रॉन संक्रमित व दूसरा कमजोर प्रतिरक्षा वाला) को एक ही घर में 6 फीट की दूरी पर रखा गया। इस परीक्षण में पाया गया है कि अगर घर में दोनों व्यक्ति N95 मास्क का इस्तेमाल करते हैं तो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में तीन घंटे से 24 घंटे में संक्रमण पहुंचता है। जबकि, संक्रमित व्यक्ति से एक स्वस्थ्य व्यक्ति, अगर उसने मास्क नहीं पहना है या फिर कपड़े का मास्क पहना है तो संक्रमण को पहुंचने में सिर्फ 2 मिनट का समय लगता है। वहीं, सर्जिकल मास्क में कमजोर प्रतिरक्षा वाले व्यक्ति में यह 4 मिनट का समय लेता है।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिंदी »