रूस यूक्रेन विवाद : रंगमंच का कोई कलाकार कमज़ोर नहीं होता जनाब! यह तो वक़्त है जो जोकर से हीरो और हीरो से जोकर बना कर किसी को इतिहास के कुड़ेदान में तो किसी को आकाश गंगा में अमर कर देता है….

 

जेलेन्सकी उन राष्ट्रों के लिए आकाश दीप बना रहेगा जो अपनी शर्तों पर राष्ट्रीय हितों के पोषण में आस्था रखते हैं.

अशोक कुमार सिंह

किसी राष्ट्र के नेता को आजीवन या जीवन के लम्बे दौर तक राष्ट्रपति बना देने का क्या अंजाम होता है चीन और रूस इसके उदाहरण हैं.दुखद तो यह है कि विश्व के दो अधिनायकवादियों के दुस्साहस का नतीजा हमने कोरोंना के दौर और यूक्रेन में देखा है…पुतिन के लिए यूक्रेन न केवल Himalayan Blunder साबित हुआ है बल्कि युद्ध इतिहास में रूस की सबसे बड़ी रणनीतिक अदूरदर्शिता के रूप में याद किया जायेगा जो यह भी नहीं भाँप सका कि पश्चिमी देश यूक्रेन के साथ खड़े होंगे.
वह यह भी नहीं भाँप सका कि यूक्रेन के नागरिक 21 वीं सदी के अपराजेय योद्धा हैं जो टैंक और तोपों की तो बात ही अलग है, परमाणु दानवों के सामने भी जान की बाज़ी लगाकर ताल ठोंकने के लिए तैयार हैं.जहाँ तक अमेरिका की बात है, वह वही कर रहा है जो उसके डी एन ए में है.”ऐसा कोई सगा नहीं जिसको दादा (अमेरिका) ने ठगा नहीं “. और हाँ, एक बात उन तमाम मेरे चाहने वाले जिज्ञासुओं के लिए जो बार बार मुझसे यह सवाल करते हैं कि जेलेन्सकी ने अपने देश को बर्बाद कर दिया, उसे “नाटो “से दूरी रखनी चाहिए थी. मैं सभी जिज्ञासुओं को इस माध्यम से स्पष्ट करना चाहूंगा कि क्या उनके पास कोई ऐसा उदाहरण है.जिसमे वे सिद्ध कर सकें कि कोई ऐसा राजनेता विश्व में पैदा हुआ है, जिसे वे सर्टिफ़िकेट दे सकें कि उसने कोई गलती नहीं की? जिन्हें रोज जीना है और रोज मरना है उनकी नजर में जेलेन्सकी का कदम एक भूल हो सकती है लेकिन जिनका देश के लिए जीना और देश के लिए मरना ही जीवन का पहला लक्ष्य, पहला प्यार और स्वर्ग तक पहुंचने का दर्शन हो उसके लिए इससे पुण्य का कोई और कार्य धरती पर हो ही नहीं सकता और यही यूक्रेन के मुखिया ने किया है…… जेलेन्सकी उन राष्ट्रों के लिए आकाश दीप बना रहेगा जो अपनी शर्तों पर राष्ट्रीय हितों के पोषण में आस्था रखते हैं….. किसी ऐसे दुनियाँ के बल्लेबाज को आप जानते हैं जो दावे के साथ यह कह सके कि वह किस बाल पर सिक्सर मारेगा? मेरे पास कोई उदाहरण नहीं है…… रंग मंच का कोई कलाकार कमज़ोर नहीं होता जनाब! यह तो वक़्त है जो जोकर से हीरो और हीरो से जोकर बना कर किसी को इतिहास के कुड़ेदान में तो किसी को आकाश गंगा में अमर कर देता है.

(लेखक विदेशी मामलों के विशेषज्ञ हैं) 

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हिंदी »