नायक कहीं और से नहीं आतें हैं वे अपने कर्मों से नायक बन जाते हैं..

केरल के पथनमथीट्टा के कलेक्टर पी.वी.नूह के पास कलेक्टर कंट्रोल रूम 1077 से इन्फॉर्मेशन आयी कि मुख्यालय से दूर नदी के पार एक गाँव में तीन परिवार, जो आइसोलेट हैं…

0Shares

दानी हो तो रतन जी टाटा जैसा

जिस होटल का एक दिन के रहने का खर्चा पंद्रह हजार से शुरू होकर डेढ़ लाख तक हो जहां एक चाय 600 रुपये में मिलती हो, वहां कोरोना उपचार में…

0Shares

कितना निर्मम है समय, तु इस बच्चे के आंखों के खारेपन को पढ़ जरा!

यह विनोद तिवारी का बच्चा है। इतना छोटा बच्चा समझ नहीं पा रहा है कि मेरी माँ क्यों रो रही है। उसे नहीं पता कि उसे क्या करना चाहिए? 32…

0Shares

डीएम अलीगढ़ के नाम से शातिर व्यक्ति ने बनाई दूसरी फेसबुक आईडी, डीएम ने साइबर सेल को दिए कार्यवाही के निर्देश

साइबर सेल की टीम जुटी जांच में, दोषी पर होगी कड़ी दंडात्मक कार्यवाही। डीएम अलीगढ़ श्री चंद्र भूषण सिंह की फर्जी फेसबुक आईडी (Dm Aligarh) के नाम से किसी शातिर…

0Shares

घर लौटने वाले हजारों मजदूरों को कैसे रोका जाए, तेलंगाना की मंत्री ने दिखाया रास्ता

तेलंगाना की मंत्री सत्यवती राठौर मजदूरों के बीच जाकर सड़क पर बैठ गईं. ये मजदूर अपने परिवार के साथ घर को जा रहे थे. मंत्री ने न सिर्फ इनको कोरोना…

0Shares

अतीत के दरवाजों पर स्वर्णाक्षरों से अंकित महागाथा : बिसात पर जुगनू

–सीमा संगसार सुप्रसिद्ध कथाकारा वंदना राग का यह पहला उपन्यास है और इस पहले ही उपन्यास में न जाने कितने उपन्यासों को अपने नाम से जोङ़ लिया है ।जब भी…

0Shares

अंकिल ! देखो किरौना आ गया …

-अभिषेक प्रकाश सांड़ और संन्यासी भी सड़क से सैनिटाइज हो गए हैं! बाबाओं के बाबा ने कहा है कि ‘अपन लंगोट तू सबे अपने संभालो।’ स्वर्ग का परमिट अपने गमछे…

0Shares

सरकार को दंगाग्रस्त क्षेत्रोंं को कुछ समय के लिए सेना के हवाले कर देना चाहिए-रघु ठाकुर

प्रतिक्रियाएं : दिल्ली हिंसा के बाद सोशल साइट्स पर तरह तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।देखें एक नज़र किसने क्या कहा : दिल्ली वो शहर है जहाँ पीली लाइन पार…

0Shares

ये शाहीन हैंं, लेकिन शाहीन बाग वाली शाहीन नहीं हैं…?

ये शाहीन हैंं, लेकिन शाहीन बाग वाली शाहीन नहीं हैं ये एम०फिल०,पीएचडी, NET, SET वाली शाहीन हैं। ये मध्यप्रदेश प्रदेश में Guest Lecturer हैं। विधानसभा चुनाव में कॉग्रेस ने अपने…

0Shares

पैदल यात्रा के आरोप में दिल्ली की पत्रकार सहित 10 लोगों को यूपी पुलिस ने भेजा जेल,

-पंकज चतुर्वेदी की वाल से दिल्ली की पत्रकार प्रदीपिका सारस्वत सहित 10 युवाओं को मंगलवार को उत्तर प्रदेश पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. प्रशासनिक सूत्रों का कहना है…

0Shares
हिंदी »